आपके किचन की ये शान, बढ़ाता है खाने का स्वाद तो जानिए इसके लाभ के साथ नुकसान

0
502

जयपुर: आयुर्वेद में हींग को एक सफल औषधि माना गया है। यदि इंसान हींग का सेवन करता है तो वह कई रोगों से मुक्त हो सकता है। किचन में अक्सर हींग रहती है क्योंकि इसका इस्तेमाल हम खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी करते हैं। यही नहीं यह कई तरह के घरेलू कामों में भी आती है जैसे पेट दर्द होने पर, खाने को आसानी से पचा देती है हींग।

फायदा

*हींग पुरुषों में ताकत बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होती है यह खासतौर पर पुरुषों के लिए बहुत कारगर है। साथ ही ये कामेच्छा को भी बढ़ाती है। महिलाओं को पेट में दर्द और मरोड़ की शिकायत हो जाती है। ऐसे में आप चाहे तो चुटकी भर हींग को पानी के साथ ले सकती हैं. ऐसा करने से लाभ होता है।

यह पढ़ें…रसोई की इन चीजों को ऐसे करें साफ तो करेंगी परिवार के दिलों पर राज

*दांतों की समस्या के लिए हींग बहुत फायदेमंद है।दांतों में कीड़ा लग जाने पर रात में सोते वक्त दांतों में हींग दबाकर सोएं या फिर हींग के पानी से गरारा करें।  कब्ज की शिकायत होने पर हींग के पाउडर में मीठा सोडा मिलाकर रात में सोने से पहले खाएं. इससे पेट साफ हो जाएगा और कब्ज की शिकायत खत्म होगी।

*त्वचा से जुड़े रोगों में फायदेमंद दाद, खाज, खुजली जैसे त्वचा से जुड़े रोगों में हींग बहुत फायदेमंद है. चर्म रोग होने पर हींग को पानी में घिसकर उन स्थानों पर लगाएं जहां दाग हो।

*हींग का इस्तेमाल कई तरह के दर्द दूर करने के लिए किया जाता है।पेट दर्द और सिर दर्द में इसे हल्का गर्म करके लेप करने से लाभ होता है और अगर आपके दांतों में दर्द है तो आप इसे नींबू की कुछ बूंदों के साथ मिलकार प्रभावित दांत पर लगा सकते हैं।

* हींग में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट्स अपच, गैस, पेट से संबंधित रोग जैसे इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम को ठीक करने में सहायक है।यह सांस से संबंधित समस्याओं और ब्लड शुगर के स्तर को कम करती है। हींग इंसुलिन को छिपाने के लिए अग्नाशय की कोशिकाओं को उत्तेजित करती है।इसमें कोमरिन्स तत्व होता है, जो खून को पतला करके रक्त प्रवाह बढ़ाता है।

यह पढ़ें..जॉब को लेकर परेशान हैं तो कंसल्टेंट बनकर बेहतर बनायें भविष्य

*ब्लड कोलेस्ट्रॉल का स्तर घटता है, जिससे हाइपरटेंशन से बचाव होता है।यह फ्री रेडिकल्स से शरीर की कोशिकाओं को बचाती है। हींग की कैंसर-विरोधी गतिविधि कैंसर कोशिकाओं का विकास अवरुद्ध करती है।इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से राहत देता है। हींग बलगम दूर करके छाती के कंजेशन को ठीक करती है।

नुकसान
*हींग का सेवन अधिक करने से लकवे का अटैक तक पड़ सकता है। यही नहीं एैसा कभी भी हो सकता है। क्योंकि हींग के अंदर एैसे तत्व होते हैं जो हमारी दिमाग की नसों पर खून पहुंचाना बंद कर देते हैं। जिसकी वजह से पक्षघात हो सकता है। इसलिए हींग खाना नुकसानदायक हो सकता है।

*हींग से अतिसार और पेट की कई गंभीर बीमारियों को दे सकती है। जैसे पेट में जलन, पेट में गैस बनना, अधिक डकारें व उल्टी की शिकायात होना आदि। हींग को कभी भी खाली पेट नहीं खाना चाहिए। इससे ये समस्याएं आपको हो सकती हैं। हींग किसी—किसी को ठीक से पचती भी नहीं है।

*जो लोग हींग का सेवन अधिक करते हैं तो इससे धीरे—धीरे हमारे होंठों पर गलत प्रभाव पढ़ने लगता है। जैसे की वह सूजने लगते हैं। यही नहीं इसका सेवन करने से गाल भी फूलने लगते हैं। और मुंह में झनझनाहट होने लगती है।

*वे लोग जो हींग का प्रयोग रोज आपने खाने में करते हैं उनमें अक्सर रक्तचाप की समस्या देखी जाती है। जी हां हींग *में मौजूद तत्व हाइपरटेंशन को बढ़ा सकते हैं। यदि आप बल्डप्रेशर के मरीज हैं तो हींग का सेवन करना बंद कर दें। क्योंकि इससे आपको दिल से संबंधित बीमारियां भी हो सकती है। हींग को कम मात्रा में ही खाना फायदेमंद होता है।

*हींग का सबसे बड़ा साइड इफैक्ट ये है कि इसका अधिक सेवन करने वाले लोगों को सिर से संबधित समस्याएं जैसे चक्कर आना, सिर में दर्द होना या फिर किसी काम पर मन ना लगना आदि की समस्याएं हो सकती हैं। एैसा होने पर आप हींग का सेवन करना बंद कर दें। और पानी का सेवन अधिक करें।

*वे माताएं जो गर्भवती हैं वे हींग का सेवन ना करें। क्योंकि इससे मिसकैरेज हो सकता है। क्योंकि हींग की तासीर बहुत अधिक गर्म होती है। यही नहीं हींग शरीर में खून की कमी भी कर सकता है। इसके अलावा वे माताएं जो अपने शिुशु को स्तनपान करवाती हैं। वे भी हींग का सेवन कम कर दें। एैसा इसलिए क्योंकि इससे बच्चे की सेहत पर गलत असार पड़ सकता है। नवजात के लिए खतरनाक हो सकती है हींग।

Post Your Comments