एक शहर जहां पति, पत्नी और बच्चों ने खुद को उड़ा लिया, निशाने पर थे तीन चर्च

0
40

जकार्ता : इंडोनेशिया के सुराबाया शहर के पुलिस मुख्यालय में सोमवार को दो बाइक सवार आतंकवादियों ने विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया। पुलिस ने हालांकि हमले में हताहत हुए लोगों की संख्या का खुलासा नहीं किया है।

जकार्ता पोस्ट के मुताबिक, हमला सुबह 8.50 बजे सुराबाया के पुलिस मुख्यालय के प्रवेश द्वार पर हुआ।

सुराबाया पुलिस मुख्यालय पर यह हमला रविवार देर शाम पूर्वी जावा के सिदोजरे में एक बम विस्फोट और सुबह शहर (सुराबाया) के तीन चर्च में हुए आत्मघाती विस्फोटों के कुछ घंटों के भीतर ही हुआ, जिसमें दर्जनभर से ज्यादा लोग मारे गए थे।

ये भी देखें : ‘रोग नेशन’ इराक के चुनावी नतीजे चौकानें वाले हैं, शिया गठबंधन आगे

जकार्ता पोस्ट के मुताबिक, पूर्वी जावा के पुलिस प्रवक्ता फ्रांस बारुं ग मंगेरा ने पुलिस मुख्यालय पर हमला होने की पुष्टि की है। हालांकि, उन्होंने हमले में किसी के हताहत होने की कोई जानकारी नहीं दी।

सीसीटीवी फुटेज के हवाले से मंगेरा ने बताया कि सुरक्षा जांचचौकी पर बाइक सवार एक पुरुष और महिला आकर रुके और फिर विस्फोट हो गया।

उन्होंने कहा, “दो लोग मोटरसाइकिल पर थे और महिला उनके पीछे बैठी थी।”

मंगेरा ने कहा कि हमले में चार पुलिस अधिकारी और छह नागरिक घायल हुए हैं।

जकार्ता पोस्ट के अनुसार, एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि मोटरसाइकिल पर जोड़े के साथ एक बच्चा भी बैठा हुआ था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, वीडियो फुटेज में दिखा कि जैसा कि सुरक्षाकर्मी जांच कर रहे हैं, एक कार और दो मोटरसाइकिल गेट के अंदर प्रवेश कर रहे हैं। अचानक एक मोटरसाइकिल पर विस्फोट होता है।

सुराबया में तीन चर्च पर हमले को सीरिया से लौटे छह सदस्यीय परिवार ने अंजाम दिया था। इसकी जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है।

राष्ट्रीय पुलिस प्रमुख टिटो करनावियन ने कहा कि ये परिवार आईएस-प्रेरित एक नेटवर्क जेमाह अंशरुत दौला (जेएडी) से जुड़ा था।

पुलिस ने कहा कि चर्च पर हमले के कुछ घंटे बाद ही उसी शहर में एक अपार्टमेंट के परिसर में हुए विस्फोट में तीन लोग मारे गए और दो घायल हो गए।

ये भी देखें : पाकिस्तान : नवाज ने मान लिया मुंबई अटैक में पाकिस्तानी आतंकियों का हाथ

मंगेरा ने कहा कि पूर्वी जावा पुलिस ने चर्च में हुए हमले में इस्तेमाल विस्फोटक और सिदोजरे में हुए हमले में इस्तेमाल विस्फोटक में समानता पाई है।

उन्होंने कहा कि चर्च पर हुए हमले और सिदोजरे में हुए हमले दोनों में परिवार के सदस्य भी शामिल थे।

सिन्हुआ के अनुसार, एक अलग घटना में सुकोदोनो के जेदोंग गांव में आतंकवाद-रोधी दस्ते और आतंकवादियोंके बीच गोलीबारी हुई और एक शख्स को गोली मार दी गई। छह बम बरामद हुए हैं। फोटो डिस्प्ले के आधार पर पुलिस ने दो पुरुषों और एक महिला को गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here