प्रिया के गाने पर विवाद : डायरेक्टर ने कहा-इस्लाम विरोधी नहीं

0
639

नई दिल्ली : अपने नैनों के बाण से देश को घायल करने वाली प्रिया प्रकाश वारियर के हिट सॉंग पर विवाद और राजनीति दोनों शुरू हो गई है। इस सॉंग को इस्लाम विरोधी बताते हुए हैदराबाद के कुछ युवाकों ने इसके एफआईआर  दर्ज करा दी। अब फिल्म के डायरेक्टर और प्रिया सॉंग के बचाव में आ गए हैं। वहीं गुजरात के निर्दलीय एमएलए जिग्नेश मेवाणी गाने को आरएसएस पर हमले के लिए प्रयोग कर रहे हैं।

ये भी देखें : जिसके नैनो के बाण से घायल हुए उसके बारे में जानिए सबकुछ

डायरेक्टर ओमर लूलू कहते हैं, गाना इस्लाम विरोधी नहीं है बल्कि यह मोहम्मद साहब की तारीफ करता है। उन्होंने साफ किया यह रोमांटिक गाना नहीं है। कुछ सीन के चलते रोमांटिक जैसा दिख रहा है। मैं साफ कर दूं कि यह गाना किसी भावनाओं को आहत नहीं कर रहा है। इसमें इस्लाम और मुसलमानों के खिलाफ कुछ भी नहीं है।

वहीं प्रिया ने अपना पक्ष रखते हुए कहा, गाने को खूब पसंद किया जा रहा है। कुछ मुस्लिम इसका विरोध भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा जो विरोध कर रहे हैं उन्हें लगता है कि यह गाना मोहम्मद साहब और उनकी पत्नी के बारे में है, लेकिन ऐसा मानने वाले लोग मुट्ठीभर हैं।

पुलिस अधिकारी फलकनुमा सईद ने इस मामले पर कहा एक व्यक्ति ने फिल्म ‘ओरू अदार लव’ के निर्देशक ओमर लूलू के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। दावा किया गया है कि यह गाना मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को आहत करने वाला है। हमने सेक्शन 295A के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया है।

क्या है सॉंग का अर्थ  

माणिक्य मलराया पूवी का अर्थ है मोतियों का फूल है। यह गाना मालाबार इलाके में मुस्लिम समुदाय बड़े ही भावपूर्ण तरीके से गाता है। मान्यता यह है कि यह सॉंग मोहम्मद और उनकी पत्नी खदीजा की प्रेम कहानी के बारे में है।